HINDILIFEPopularUncategorizedWAYS

अपनी शक्ति को, खूबी को पहचाने

अपनी शक्ति को, खूबी को पहचाने

क्या आपको भी यह लगता है बड़े-बड़े काम सिर्फ महान लोग ही कर सकते हैं। बड़े-बड़े काम करना हमारे बस का नहीं है। कभी आपने सोचा कि वो बड़े लोग कैसे बड़े बने। बड़ा इंसान बड़े काम करें ऐसा जरूरी नहीं है। पर जो बड़ा काम करता है वह एक न-एक दिन बड़ा इंसान जरूर बनता है। हर इंसान अगर निश्चय करके किसी महत्व कार्य में लग जाए तो उसे जरूर प्राप्त कर लेता है। हर बड़ी चीज हर बड़ा सपना हमें असंभव सा लगता है लगता ही नहीं कि हम कर पाएंगे इसीलिए हम कोशिश भी नहीं करते। बस इसी सोच के कारण हम कभी जीवन में आगे नहीं पढ़ पाते और ऐसा हम इसलिए सोचते हैं क्योंकि हमें हमारी खूबियों के बारे में अभी पता ही नहीं है। क्योंकि कभी हमने कुछ बड़ा करने का सोचा ही नहीं है। जब तक आपने कोशिश ही नहीं की किसी काम को करने की तो आपको कैसे पता होगा कि आप क्या कर सकते हैं और क्या नहीं। यदि कोई आप से पूछे कि आपने ऐसी क्या खूबी है जो किसी और में नहीं तो क्या जवाब दोगे। आप सोच में पड़ जाओगे कि ऐसा क्या है मुझमें जो किसी और में नहीं क्या आपने ऐसी कोई खूबी है जो हमेशा एक जैसी रहती हो चाहे बाहर कुछ भी हो पर आपकी वह खूबी आपमें बनी रहे।

Support

यदि आपकी खूबी मीठा बोलने की है तो क्या आप हर परिस्थिति में मीठा बोल सकते हैं। अगर आप कभी मीठा बोलते हैं कभी क्रोध मैं बोलते हैं तो इसका मतलब वह आपकी खूबी नहीं है। आपका कंट्रोल तो लोगों के हाथ में है वो अच्छा चलेंगे तो आप अच्छा चलेंगे वह बुरा चलेंगे तो आप भी बुरा चलेंगे। क्या एक भी आपमें ऐसी खूबी है जो हर परिस्थिति में एक जैसी बनी रहे।

हर इंसान को परमात्मा ने यूनिक बनाया है सबसे अलग बनाया है। हर इंसान कुछ ऐसा कर सकता है जो संपूर्ण विश्व में कोई और नहीं कर सकता बस जरूरत है उसे पहचानने की यदि आपका कोई गुण आपके सारे गुण और अवगुणों से ज्यादा भारी होगा तो वो गुण सबको प्रभावित कर देगा। यदि नम्रता आपका गुण है तो यहीं आपकी पहचान भी बनेगी। यदि आपका helping nature है। दयालु स्वभाव है। तो दयालुता आपकी पहचान बनेगी। जिसके पास कभी भी कोई भी जाए यह मदद करता है। तो आप भी अपने भीतर झांक कर देखिए कि आपकी खूबी क्या है। जो हर परिस्थितियों में एक जैसी हो। जो परिस्थितियों के अनुसार बदले वह आपकी खूबी नहीं है। कुछ तो ऐसा होगा जो आपकी पहचान होगी। कभी आप भी अपने भीतर ढूढेंगे तो आपको भी अपने भीतर ऐसी खूबी है मिलेगी जो किसी और में नहीं। और यदि उस खूबी को आप डिवेलप करेंगे। अपनी उस विशेषता को हर परिस्थिति में एक जैसा बनाएंगे, तो वही आपकी पहचान बनेगी। और वही आपको सबसे अलग बनाएगी। और वही आपको लाखों लोगों में भी स्पेशल बना देगी।

यदि आप भी चाहते हैं कि करोड़ों लोगों की भीड़ में आप भी स्पेशल बने तो जो आपकी विशेषता है उसे अपनी पहचान बनाइए। चाहे बाहर कैसी भी परिस्थिति हो पर वो अपनी पहचान आपके साथ हमेशा बनी रहे। यदि एक भी ऐसी खूबी आपने अपने जीवन में धारण कर ली तो उसी की वजह से आप करोड़ों लोगों में सबसे स्पेशल, सबसे खास दिखेंगे।

Source
Image By Pexels.com
Show More

Related Articles

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Close

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker
%d bloggers like this: